Loading ...

Press Release1:19.04.2017-Delhi State | Bharatiya Janata Party

Press Release1:19.04.2017-Delhi State

  •  /5
    Avg: 0 / 5 (0votes)
  • (0)
  • (260)
Published: 19/04/17 12:59 PM by Delhi BJP
सोनिया गांधी कांग्रेस प्रधान के नाते टाइटलर को लाई डिटेक्टर टेस्ट करवाने का आदेश दें-तरुण चुघ

कैप्टेन अमरिंदर सिंह कांग्रेस हाई कमान को टाइटलर को लिए डिटेक्टर टेस्ट के लिए दबाव डालें-तरुण चुघ


    नई दिल्ली, 19 अप्रैल।  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मंत्री श्री तरुण चुघ ने कहा कि 1984 के सिख नरसंहार के मुख्य दोषी जगदीश टाइटलर का लाई डिटेक्टर टेस्ट सी.बी.आई द्वारा करवाना चाहिये ताकि सच सामने आ सके, पर सिख विरोधी दंगों के दोषी टाइटलर लाई डिटेक्टर टेस्ट नहीं करवाना चाहते हैं और उसका विरोध कर रहे है।

    श्री चुघ ने कहा कि 1984 सिख विरोधी दंगों के केस में मंगलवार को दिल्ली कोर्ट में पेशी हुई।  पेशी के दौरान कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर ने लाई डिटेक्टर कराने से इंकार कर दिया। टाइटलर पहले भी टेस्ट करवाने से इंकार चुके हैं।  इस मामले में कोर्ट ने फैसला 9 मई तक सुरक्षित रख लिया।  इससे पहले 30 मार्च को भी टाइटलर ने लाई डिटेक्टर टेस्ट से इंकार कर दिया था।  उस दिन टाइटलर ने वकील ने कहा था कि यह प्रक्रिया क्रूरतापूर्ण है जबकि 1984 के सिखों के कत्लो गारत में सैकड़ों कत्ल क्रूरता से हुये थे और पूरे देश का सामाजित व राजनितिक वातावरण में खटास आई थी और पूरे विश्व में बैठे पंजाबी के मन पर गहरी चोट आई थी।  टाइटलर के वकील के मुताबिक उन्हें सी.बी.आई. ने ऐसे टेस्ट करने का कोई विशेष कारण नहीं दिया है, लिहाजा इस मामले से संबंधित सभी केस कांग्रेस पार्टी द्वारा जान बूझकर रुकवाये गए थे। कई-कई सालों तक चार्जशीट नहीं पेश की गई है सैकड़ो कत्ल हुये, दर्जनों धार्मिक व शैक्षणिक स्थल जलाये गए, संगठित दंगाइओं ने कई घर व दुकाने जला दीं। 33 साल बीत जाने के बाद भी किसी दोषी को सजा नहीं हो सकी हैं।

    श्री चुघ ने कहा की पंजाब के मुखमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस हाई कमान को टाइटलर को लिए डिटेक्टर टेस्ट के लिए दबाव डाले व पंजाब सरकार व पंजाब के लोगों का मत है कि 1984 के कत्लों गारत  में 33 वर्षों  भी कोई सजा नहीं हुई हैं और उसके लिए केंद्रीय कांग्रेस पार्टी जिमेवार हैं।

    गौरतलब है कि फरवरी में दिल्ली की एक अदालत ने 1984 के सिख विरोधी दंगे के एक मामले में कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर का लाई डिटेक्टर टेस्ट यानी झूठ पकडने वाला टेस्ट करने की सी.बी.आई. की मांग पर उन्हें पेश होने का निर्देश दिया था पर कांग्रेस नेता, टाइटलर जान बूझकर कातिलो को बचाने का प्रयास कर रहे है इस लिए कांग्रेस पार्टी के प्रधान श्रीमती सोनिया गांधी व पंजाब के मुख मंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह को चाहिये की वो टाइटलर को लाई डिटेक्टर टेस्ट के माध्यम से 1984 के सिखों के कातिलों को पकड़वाने में सहायता करवाए।
    
     

(प्रवीण शंकर कपूर)
मीडिया प्रमुख
09811040330 


As the Congress President Sonia Gandhi Should Ask Jagdish Tytler to undergo lie detector test – Tarun Chugh

 

Captain Amrinder Singh Should Pressurize the Congress High Command for the Lie Detector Test of Jagdish Tytler – Tarun Chugh

New Delhi, 19th April.  BJP National Secretary Shri Tarun Chugh has said that the CBI should conduct lie detector test of Jagdish Tytler, the main accused in the 1984 Sikh carnage cases so that the truth may come out. But the main accused of anti Sikh riots Jagdish Tytler is not ready for such test and also opposing it.

Shri Chugh said that on Tuesday he appeared before the Delhi High Court in connection with a 1984 Sikh carnage case. Congress leader Jagdish Tytler refused to undergo lie detector test during his appearance before the court. Tytler had refused such test in past also. The court has reserved decision in this case till 9th May. On the 30th March also Tytler had refused to undergo lie detector test. On that date the Lawyer for Tytler had said that this process is very cruel whereas hundreds of Sikhs were mercilessly killed during the 1984 Sikh carnage which vitiated the entire social and political atmosphere of the country and in the entire world the Punjabi Community felt offended. According to the Lawyer of Tytler the CBI has not stated any reason for such test. It shows that the hindrance has been created in the progress of all these cases by the Congress party. Chargesheet was not framed for many years although hundreds of people were murdered, dozens of educational and religious institutions were burnt down, organized rioters burned down many houses and shops also. No accused has been punished in these cases even after 33 years.

Shri Chugh also said that the Punjab Chief Minister Captain Amrinder Singh should pressurize the Congress High Command for the lie detector test of Jagdish Tytler and Government of Punjab and the people of Punjab feel that the Central Congress party is responsible for preventing punishment in the 1984 Sikh carnage cases although 33 years have passed.

It may be mentioned that in February a Delhi Court had on the demand of CBI directed the Congress leader Jagdish Tytler to appear for lie detector test in a case connected with 1984 Sikh carnage but the Congress leader Tytler is deliberately trying to protect the criminals. Hence the President of Congress party and Punjab Chief Minister Captain Amrinder Singh should help in punishing the guilty persons of 1984 Sikh carnage though the lie detector test of Jagdish Tytler.

(Praveen Shankar Kapoor)

Media Incharge

+919811040330

 

Comments (no comments yet)

Top News