Loading ...

Press Release1:10.01.2017-Delhi State | Bharatiya Janata Party

Press Release1:10.01.2017-Delhi State

  •  /5
    Avg: 0 / 5 (0votes)
  • (0)
  • (88)
Published: 10/01/17 2:18 PM by Delhi BJP
मनोज तिवारी ने चाणक्यपुरी संजय कैम्प में वस्तुस्थिति का पता लगाने हेतु रात्रि प्रवास किया
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने झुग्गीवासियों को आश्वासन दिया कि पीने के पानी लेने के लिए या मोबाइल डिस्पेंसरियों की नियमित सेवा के लिए उन्हें रेल लाइन पार न करना पड़े इसके लिए वे प्रयास करेंगे
झुग्गी बस्ती के निकटवर्ती स्कूलों में वोकेशनल कोर्स प्रारम्भ किया जाना चाहिए-मनोज तिवारी


नई दिल्ली, 10 जनवरी।  दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने झुग्गीवासियों की वास्तविक स्थिति की सच्चाई जानने के लिए चाणक्यपुरी में रेलवे लाइन के पास स्थित संजय कैम्प में सोमवार 9 जनवरी की रात्रि में एक वृद्ध महिला श्रीमती सायरा बानो के निमंत्रण पर उनकी छोटी झुग्गी में उनके परिवार के यहां रात्रि प्रवास किया और भोजन भी किया।

श्री तिवारी संजय कैम्प में रात्रि 10 बजे पहुंचे और अगले दो घंटे तक मोबाइल बैंकिंग भीम एप्प तथा अन्य मोबाइल बैंकिंग एप्प के लाभों के बारे में चर्चा की और बच्चों को शिक्षा के अवसर के संबंध में भी पता लगाने का प्रयास किया।  उन्हें उस समय एक सुखद आश्चर्य हुआ जब 50 से अधिक झुग्गीवासी जो छोटे फूड स्टाल चलाते हैं या फेरीवालों का काम करते हैं, बताया कि वे अपने ग्राहकों से पैसे लेने के लिए मोबाइल बैंकिंग एप्प का पहले से ही उपयोग कर रहे हैं।

मध्य रात्रि में श्रीमती शायरा बानों के बच्चों के साथ भोजन में दाल, भात, रोटी खाई और इसी बीच उन्होंने स्थानीय महिलाओं के साथ बातचीत भी की जिन्होंने दिल्ली में शराब बंदी के लिए प्रयास करने का उनसे आग्रह किया क्योंकि शराब से उनके जीवन और घर परिवार को सबसे अधिक नुकसान पहुंचता है।

आज सुबह श्री तिवारी संजय कैम्प में चारों ओर घूमे।  इस बस्ती में लगभग 5000 की आबादी है जिसमें अधिकतर दिहाड़ी पर काम करने वाले मजदूर रहते हैं।

श्री तिवारी को यह देखकर बहुत दुख हुआ कि महिलाओं और बच्चों को पीने का पानी या अन्य चीजें लाने के लिए मोती बाग तक जान को जोखिम में डालकर रेलेव लाइन पार करके जाना पड़ता है।

इन्द्रपुरी और नांगलोई झुग्गियों की तरह ही यहां भी बोरवैल काम नहीं कर रहे हैं।

महिलाओं ने पानी की कमी, शौचालय और स्नानगृह के न होने की शिकायत की।  इस कैम्प के पास लगाये गये चलते फिरते शौचालय बहुत गंदे थे और मजबूरन झुग्गीवासियों को निर्माणाधीन डेनिस एम्बेसी के आसपास खुले में शौच के लिए जाना पड़ता है।  अधिकांश बुजुर्गों ने शिकायत की कि इस इलाके मंे स्वास्थ्य सेवायें नहीं हैं।  मोबाइल डिस्पेंसरियां महिने में एक-दो बार ही आती हैं और मोहल्ला क्लीनिक तो उनके लिए एक सपने की तरह है।  उन्हें मजबूरन छोटी से छोटी बीमारियों के लिए सफदरजंग अस्पताल जाना पड़ता है।

श्री मनोज तिवारी ने स्थानीय महिलाओं, विशेषरूप से श्रीमती शायरा बानों, श्रीमती कमलेश कौर, श्रीमती मूनर देवी को यह आश्वासन दिया कि मोती बाग से कैम्प तक उनके लिए पीने के पानी के स्रोत का प्रबंध करेंगे जिससे कि वहां के निवासियों को पीने का पानी लाने के लिए जान को जोखिम में डालकर रेलवे लाइन न पार करना पड़े।  इसके लिए वह रेलवे, एनडीएमसी और उपराज्यपाल से बात करेंगे साथ ही स्थानीय सांसद श्रीमती मीनाक्षी लेखी से भी आग्रह करेंगे कि वह नई दिल्ली क्षेत्र की झुग्गी बस्तियों में मोबाइल डिस्पेंसरी सप्ताह में दो दिन पहुंचना सुनिश्चत करें।

निर्धन परिवारों की ओर से माजिद और मुकेश ने बी.पी.एल. स्कीम के अधीन गैस कनेक्शन देने और बुजुर्गों को रोके गये पेंशन पुनः देने के लिए आग्रह किया।

श्री तिवारी ने बच्चों को आश्वासन दिया कि वे मोती बाग के समीप के सरकारी स्कूलों के अधिकारियों और प्रसिद्ध संस्कृति स्कूल के भी प्रबंधकों से लिखित रूप में आग्रह करेंगे कि वे झुग्गी में रहने वाले बच्चों के लिए शिक्षा या वोकेशनल पाठ्यक्रम चलाकर उनकी सहायता करें।
 
प्रातः 10 बजे संजय कैम्प से बाहर आने के पहले पत्रकारों से बात करते हुये श्री मनोज तिवारी ने कहा कि डिप्लोमेटिक एवेन्यू के बीच संजय कैम्प में दयनीय स्थिति यह दर्शाती है कि दिल्ली सरकार का अर्बन सेल्टर इम्प्रूमेन्ट बोर्ड कितना निकम्मा है।  यह अत्यंत दुख की बात है कि कांग्रेस पार्टी और आम आदमी पार्टी ने झुग्गीवासियों को अपना वोट बैंक बनाया किन्तु उन्हें किसी भी प्रकार की राहत देने का प्रयास नहीं किया।  उन्होंने यह भी कहा कि उनके पास कोई जादू की छड़ी नहीं है कि वे रातों रात उनके जीवन को बदल देंगे किन्तु वे दिल्ली भर में झुग्गियों में इसलिए प्रवास कर रहे हैं कि उनकी समस्याओं को उजागर करके केजरीवाल सरकार को उनकी समस्याओं का समाधान करने को बाध्य करें।

Manoj Tiwari Undertakes Overnight Study Visit At Sanjay Camp at Chankyapuri

DELHI BJP PRESIDENT ASSURES JHUGGI DWELLERS THAT HE WILL WORK TO ENSURE THAT THEY DONT NEED TO GO ACROSS RAIL LINES FOR GETTING DRINKING WATER & REGULAR VISIT OF MOBILE DISPENSARIES

 

To Bring Vocational Courses to Schools in Vicinity of Jhuggi Clusters is Important -- Manoj Tiwari

 

New Delhi, 10th Jan.  During his overnight study visit to Sanjay Camp, a prominent jhuggi cluster adjoining the railway track passing through Chankyapuri the diplomatic avenue of India the Delhi BJP President Shri Manoj Tiwari had dinner & spent Monday 9th January night with the family of an old woman Smt. Saira Bano in their small jhuggi at their invite.

 

Shri Tiwari reached the Sanjay Camp around 10 pm and spent the next 2 hours discussing the utility of adopting BHIM App or other banking applications with the jhuggi residents and trying to understand the educational opportunities for the children. He got a pleasent surprise as over a 50 jhuggi dwellers running small food stalls & hawkers told him that they are already using mobile apps for accepting their payments from costumers.

 

Around midnight he had a simple daal-bhat-roti dinner with the children of Smt. Saira Bano and in between talked to a few local women who wanted him to work for get prohibition on liquor invoked in Delhi as liquor was a great cause of damage in their lives.

 

Later in the morning he went around the Sanjay Camp Basti a home for a population of 5000 mostly being daily wage earning families.

 

Shri Tiwari was shocked to see that women & children have to risk their lives by going across the railway lines towards Moti Bagh to get drinking water and like at Inderpuri & Nangloi jhuggi clusters here too the Bore-well installed at Sanjay Camp's entry point was not working.

 

Women here too complained of water shortage & lack toilets & bathrooms. The mobile toilets stationed around the Camp were too dirty for human use forcing local residents to urinate or defecate in open around under construction Danish embassy. Most elderly citizens complained that there was total lack of health services in vicinity. Mobile Dispensaries visit them hardly twice a month and Mohalla Clinics continue to be a distant dream forcing them to rush to Safdarjung Hospital even for minor sickness.

 

Shri Manoj Tiwari assured the local women especially Smt. Saira Bano, Smt. Kamlesh Kaur & Smt. Munar Devi that he will work to get a drinking water source for their Camp from across Moti Bagh side so that their families don't have to risk their lives crossing railway lines. For this he will talk to Railways, N.D.M.C. & the Lt. Governor for solving drinking water problem and will request MP Smt. Meenakshi Lekhi to ensure at least twice a week visit of Mobile Dispensaries to all Jhuggi clusters in New Delhi area.

 

Families of Mazid & Mukesh with not much income requested for release of a gas connection under BPL scheme & their withheld senior citizen pension.

 

For the children he assured to write to the government school authorities in vicinity towards Moti Bagh & famous Sanskriti School nearby to help local jhuggi children with supportive educational infrastructure or coaching of vocational courses.

 

Talking to newspersons before leaving the Sanjay Camp around 10 am Shri Manoj Tiwari said the existence of such pathetic condition at Sanjay Camp located in between the diplomatic avenue speaks volumes on incompetence of  Delhi Urban Shelter Improvement Board of Delhi Government. It is sad that both Congress & Aam Aadmi Party have treated Jhuggi dwellers as vote bank but not made any effort to bring some relief to their lives. He said that he has no magic wand to change things overnight but is visiting Jhuggi clusters across Delhi to highlight their problems and force Kejriwal Government to find speedy solutions.

(Praveen Shankar Kapoor)

Media Incharge

+919811040330

 

 

Comments (no comments yet)

Top News